Jag Khabar

Khabar Har Pal Kee

जंग शुरुआत

यूक्रेन में हो चुकी जंग की शुरुआत – ‘मार्शल’ लॉ किया जारी

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने युक्रेन में युद्ध का का एलान कर दिया है बताया जा रहा है कि रूस की सैन्य अनुयोजन के पश्चात यूक्रेन में कई स्थानीय इलाकों में गोलाबारी हो चुकी है। यूक्रेन की राजधानी कीव पर क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों से हमला होने की खबर है। सैन्य कार्रवाई का ऐलान करते हुए राष्ट्रपति पुतिन ने धमकी भी दी कि इस मामले में कोई दखल न दे, नहीं तो अंजाम हानिकारक होगा।

अब नहीं रोका जा सकता – युद्ध

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि यूक्रेन और रूस के बीच होने वाले इस युद्ध को अब रोका नहीं जा सकता। इसलिए रूस विशेष सैन्य अभियान शुरू चूका है। उनका कहना है कि वे यूक्रेन पर धात्वाधिकार नहीं करना चाहते। इतना ही नहीं उन्होंने यूक्रेन की सेना को हथियार डालने और घर जाने को कहा।

यूक्रेन के विदेश मंत्री ने कहा कि पुतिन ने बड़े पैमाने पर हमले शुरू कर दिए हैं।शांतिपूर्ण यूक्रेन पर आक्रमण किया गया है। यह आक्रामकता का विग्रह है। यूक्रेन अपना बचाव करेगा और इसमें जीत भी हासिल करेगा।

कीव एयरपोर्ट करवाया खाली

हालातों के ज्यादा खराब होने के कारण कीव एयरपोर्ट पूरी तरह से खाली कर दिया गया है। वहां उपस्थित यात्रियों तथा काम करने वाले स्टाफ को निकाला जा चुका है। फिलहाल वहां तीन विदेशी विमान मौजूद हैं, जिनको उड़ान भरनी थी, लेकिन उन्हें टेक-ऑफ करने से भी रोक दिया गया।

यूक्रेन में आपातकाल की स्थिति घोषित

रूसी हमले के कारण यूक्रेन में बुधवार के दिन को आपातकालीन की घोषणा कर दी है, इसी के साथ यूक्रेन ने अपने नगर-निवासियों से जल्द से जल्द रूस छोड़ने का आदेश दिया गया है।

रूस ने यूक्रेन से अपने राजनयिकों को वापस बुलाने की घोषणा की है, इसके साथ ही, पूर्वी यूक्रेन के दो क्षेत्र जिन्हें राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्वतंत्र देशों के रूप में मान्यता दी है, रूस ने भी उनके साथ राजनयिक संबंधों की शुरूआत कर दिया हैं।

अमेरिका ने लगाए रूस पर – प्रतिबंध

रूस के इस कदम के कारण ब्रिटेन, यूरोपियन यूनियन और अमेरिका एक्शन में हैं। ब्रिटेन और अमेरिका ने रूस पर नए प्रतिबंधों की घोषणा की है।

अमेरिका का रूस पर प्रतिबंध लगाने का क्रमबद्ध जारी है अब कहा जा रहा है कि अमेरिका रूस में बनने जा रही Nord Stream 2 पाइपलाइन के खिलाफ कदम उठाने वाला है। इस पाइपलाइन का निर्माण जिस कंपनी से रूस करवा रहा है, उस कंपनी पर कठोर प्रतिबंध लगाने का आयोजन किया जा रहा है।

कल बुलाई गई आपात बैठक यूरोपीय संघ द्वारा

यूक्रेन और रूस के बीच मतभेद के बीच कल यूरोपीय संघ ने आपात बैठक बुलाई है। सभी सदस्यों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि 21वीं सदी में हठ पूर्वक तरीके से बॉर्डर पर परिस्थिति नहीं बदली सकेंगी।

इस संग्रह में रूस को घेरने के लिए आगे का आयोजन पर बात की गयी।

.