• राजस्थान की रैली दौरान पीएम मोदी ने लाउडस्पीकर नियमों का किया पालन
  • रूस के खिलाफ UNSC में अमेरिका लाया प्रस्ताव
  • मल्लिकार्जुन खड़गे कर्नाटक से दूसरे कांग्रेस अध्यक्ष हो जायेंगे, अगर इस बार जीत हासिल करले
  • 5G सेवा का आज होगा शुभारम्भ, पीएम मोदी करेंगे शुरुआत

Jag Khabar

Khabar Har Pal Kee

independence-day

आज आजादी के 75 वर्ष पूर्ण (75th Independence Day), पुरे देश में आनन्दोत्सव का माहौल

Today Completes 75 Years of Independence, the Atmosphere of Celebration Across the Country

आज भारत में 75वां स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day) मनाया जा रहा है, जिसका मतलब है कि भारत ने आजादी के 75 साल पूरे कर लिए हैं। हम भारतीय के रूप में उन सभी नेताओं का सम्मान करते हैं, जिन्होंने अतीत में हमारे देश की आजादी के लिए बहादुरी से लड़ाई लड़ी थी।

इस दिन, भारत के प्रधान मंत्री लाल किले, पुरानी दिल्ली में हमारा तिरंगा झंडा फहराएंगे। वह राष्ट्र के नाम भाषण भी देंगे। स्वतंत्रता दिवस यानि 15 अगस्त को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया जाता है जिसका मतलब है कि हर सरकारी कार्यालय, डाकघर, बैंक, स्टोर आदि बंद रहते है।

स्वतंत्रता दिवस का इतिहास (History of Independence day)

भारत पर कई वर्षों तक अंग्रेजों का शासन रहा। ईस्ट इंडिया कंपनी ने लगभग 100 वर्षों तक भारत पर शासन किया। यह 1757 में था, जब ईस्ट इंडिया कंपनी ने प्लासी की लड़ाई जीती थी। जीत के बाद कंपनी ने भारत पर अपना अधिकार जमाना शुरू कर दिया। हमारे देश ने पहली बार 1857 में विदेशी शासन के खिलाफ विद्रोह किया था।

उस समय ब्रिटिश सत्ता के खिलाफ पूरा देश एकजुट हो गया था। यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी क्योंकि भारत तब हार गया था लेकिन उस समय के बाद भारतीय शासन तब अंग्रेजों को दे दिया गया था, जिन्होंने भारत को आजादी मिलने तक हमारे देश पर शासन किया था। हमारे देश को स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए एक लंबे अभियान का सामना करना पड़ा। दो विश्व युद्धों के बाद ब्रिटेन कमजोर पड़ने लगा और भारत आखिरकार आजाद हो गया।

75वां स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day)

इस वर्ष 15 अगस्त सोमवार को भारत आजादी के 75 साल पूरे करेगा। 15 अगस्त, 1947 को देश को ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता मिली। जैसा कि हम 76 वें स्वतंत्रता दिवस को मनाने के लिए तैयार हैं, इस दिन के महत्व, हमारे राष्ट्र के इतिहास और हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद रखना महत्वपूर्ण है। इस दिन देश के नागरिक राष्ट्रगान गाते हुए झंडा फहराते हैं और पूरे देश में सांस्कृतिक परेड होती है। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय ध्वज भी फहराते हैं और लाल किले पर भाषण देते हैं। यह भारत के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा शुरू की गई एक परंपरा है, जिन्होंने 1947 में दिल्ली में लाल किले के लाहौरी गेट के ऊपर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था।

हर घर तिरंगा अभियान (Har Ghar Tiranga Campaign)

इस साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ के शुभ अवसर पर अमृत महोत्सव के माध्यम से हर घर तिरंगा अभियान का शुभारंभ किया है, जिसकी देश की जनता ने काफी सराहना की है और पालन भी किया है।

इतना ही नहीं, भारत सरकार ने इस अभियान से जुड़ने के लिए जनता के लिए एक वेबसाइट (Website) बनाई है। इस वेबसाइट (https://harghartiranga.com/) पर आप अपनी तिरंगे के साथ सेल्फी लेकर अपलोड कर सकते है और साथ यहां से डिजिटल तिरंगा भी डाउनलोड कर सकते है। और इस अभियान में हिस्सा ले सकते है।

.

Continue in...