• निफ्टी आज 81.85 अंक बढ़कर 17,803.35 पर पहुंचा
  • सेंसेक्स आज 253.99 अंक बढ़कर 60,549.39 पर पहुंचा
  • यमुनानगर के महावीर चौक स्थित पीएनबी बाहर भगवानगढ़ के किसानों ने लगाया टेंट, खाते से काटे रूपये वापस नहीं करने तक बैंक पर लगाएंगे ताला
  • यमुनानगर में कई जगहों पर सरकारी डिपोमे आटा बांटने वाली मशीन का नेटवर्क दे रहा धोखा, लोगों को हो रही परेशानी
  • यमुनानगर के मंडेबरी में तीन विवाह के बाद महिला ने बिना तलाक दिए रचाई चौथी शादी, थाने में मामला दर्ज
  • तुर्की-सीरिया में मरने वालों तादात 8 हजार के हुई पार, 3 माह के बाद लगी एमरजेंसी
  • UP में सभी IAS, IPS, PCS अफसरों की छुट्टियाँ रद्द
  • शहबाज ने पाकिस्तानी अवाम पर फोड़ा 180 अरब का टैक्स बम
  • राहुल गांधी और लोकसभा अध्यक्ष बिरला के बीच सदन में हुई बहस और वो भी माइक बंद करने को लेकर

Jag Khabar

Khabar Har Pal Kee

गेहूं

भारत ने लगाया गेहूं के निर्यात (Export of Wheat) पर प्रतिबंध

India Imposed Restrictions on Export of Wheat

भारत में बढ़ रही घरेलू चीजों की कीमतों को नियंत्रित करने के लिए सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। शुक्रवार को ही केंद्र सरकार ने यह अधिसूचना जारी कर दी थी।

भारत गेहूं उत्पादन में विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है और वर्तमान में भारत की जनता को अत्यधिक मात्रा में महँगाई की मार सहनी पड़ रही है, इसीलिए भारत सरकार ने यह कदम उठाया है, ताकि लोगों को और परेशानी का सामना न करना पड़े।

भारत सरकार का कहना है कि अभी तो सिर्फ उन शिपमेंट्स (Shipments) को गेहूं के निर्यात की अनुमति है, जिनको 13 मई या उससे पहले लेटर ऑफ क्रेडिट (Letter of Credit) जारी किया गया था।

रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध की वजह से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गेहूं के मूल्यों में तेजी आई है। अंतरराष्ट्रीय बाजारों में गेहूं सामान्य भाव से 40 फीसदी ज्यादा दामों में बिक रही है इसलिए भारत में भी मांग बढ़ने के कारण गेहूं और आटे की कीमतों में तेजी आई है।

आटे की की कीमत में पिछले वर्ष की अपेक्षा लगभग 13 फीसदी बढ़ोतरी हुई है।

.