• निफ्टी आज 81.85 अंक बढ़कर 17,803.35 पर पहुंचा
  • सेंसेक्स आज 253.99 अंक बढ़कर 60,549.39 पर पहुंचा
  • यमुनानगर के महावीर चौक स्थित पीएनबी बाहर भगवानगढ़ के किसानों ने लगाया टेंट, खाते से काटे रूपये वापस नहीं करने तक बैंक पर लगाएंगे ताला
  • यमुनानगर में कई जगहों पर सरकारी डिपोमे आटा बांटने वाली मशीन का नेटवर्क दे रहा धोखा, लोगों को हो रही परेशानी
  • यमुनानगर के मंडेबरी में तीन विवाह के बाद महिला ने बिना तलाक दिए रचाई चौथी शादी, थाने में मामला दर्ज
  • तुर्की-सीरिया में मरने वालों तादात 8 हजार के हुई पार, 3 माह के बाद लगी एमरजेंसी
  • UP में सभी IAS, IPS, PCS अफसरों की छुट्टियाँ रद्द
  • शहबाज ने पाकिस्तानी अवाम पर फोड़ा 180 अरब का टैक्स बम
  • राहुल गांधी और लोकसभा अध्यक्ष बिरला के बीच सदन में हुई बहस और वो भी माइक बंद करने को लेकर

Jag Khabar

Khabar Har Pal Kee

ज़ापोरिज्जिया परमाणु ऊर्जा संयंत्र

चेर्नोबिल से भी 10 गुना बड़े हादसे का खतरा, जैपोरिजिया परमाणु ऊर्जा संयंत्र (Zaporizhzhya Nuclear Power Plant) से उठा धुआं

यूक्रेन के विदेश मामलों के मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने कहा कि रूसी सेना यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र जैपोरिजिया (Zaporizhzhya Nuclear Power Plant) पर हर तरफ से गोलीबारी कर रही है।

Best Travel Bag

रूस की सेना ने यूक्रेन के एनेर्होदर शहर (Enerhodor City) पर आक्रमण कर दिया है। Enerhodar में Zaporizhzhia परमाणु ऊर्जा संयंत्र भी रूसी मिसाइलों की चपेट में आ गया है और यहाँ धुएं का एक विशाल गुबार उठता देखा गया है। Zaporizhzhia संयंत्र यूरोप का सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र है।

फॉरेन मिनिस्टर दिमित्रो कुलेबा ने बताया है कि रूस की सेनाएं यूरोप के सबसे विशाल परमाणु ऊर्जा सयंत्र पर लगातार बमबारी कर रही है। सयंत्र में आग पहले से ही लग चुकी है और यदि इसमें विस्फोट हुआ तो यह 1986 में चेर्नोबिल (Chernobyl) में हुए धमाके से भी 10 गुना ज्यादा खतरनाक साबित होगा।

अमेरिका के राष्ट्रपति ने रूस से की अपील

इस आक्रमण के होने पश्चात यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर जेलेंस्की ने अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन से बात की और यूक्रेन के हालातों के बारें में सूचित किया। जो बाइडेन ने रूस से अपील की है कि वह परमाणु ऊर्जा संयंत्र की रक्षा करने और वहां लगी आग को बुझाने में सहायता करे।

Best Knee

कहा जा रहा है कि ‘‘राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की (President Zelensky) के साथ मिलकर रूस से प्रभावित क्षेत्र में अपने सैनिकों के क्रिया-कलापों पर तुरन्त रोक लगाने तथा आपातकालीन बचाव टीमों को वहां जाने की अनुमति देने की आवाह्न किया।”

बाइडेन ने संयंत्र की स्थिति के बारे में पूछताछ के लिए अमेरिकी ऊर्जा विभाग के परमाणु सुरक्षा विभाग के अवर सचिव और राष्ट्रीय परमाणु सुरक्षा प्रशासन के प्रशासक से भी बात की।

.