• आज निफ्टी 123.20 अंक बढ़कर 17,822.00 पर पहुँचा
  • आज सैंसेक्स 418.73 अंक बढ़कर 59,881.51 पर पहुँचा
  • बिहार में नीतीश कैबिनेट का विस्तार, दिल्ली में अचानक हुई बीजेपी कोर कमेटी की बैठक
  • रिट्रीट देखने पहुंचे 50 हजार श्रद्धालु, 'हिंदुस्तान जिंदाबाद' और वंदे मातरम के नारों से गूंजी सीमा

Jag Khabar

Khabar Har Pal Kee

Dostarlimab

कैंसर के मरीजों के लिए वरदान बनी यह दवा – डोस्टारलिमैब

This drug Became a Boon for Cancer Patients – Dostarlimab

कैंसर एक ऐसी जानलेवा बीमारी है, जिससे अनेकों लोग पीड़ित है। मेडिकल साइंस इस बीमारी की रोकथाम के लिए कई सालों से दवाई या वैक्सीन खोजने की कोशिश कर रही है। ऐसे में एक उल्लेखनीय उपलब्धि शोधकर्ताओं के सामने आई है, इस उपलब्धि ने उन्हें पूरी तरह चौंका दिया है।

हाल ही में न्यू इंग्लैंड में जर्नल ऑफ मेडिसिन में यह रिसर्च प्रकाशित हुई, कि एक शोध के दौरान रेक्टल कैंसर के 18 मरीजों को 6 माह तक डोस्टारलिमैब (Dostarlimab) दवा गई।

जब निर्धारित अवधि के बाद उन 18 मरीजों के सभी टेस्ट और स्कैनिंग पुरी की गई, तब डॉक्टर भी यह परिणाम देखकर दंग रह गए कि उनके शरीर में अब किसी भी तरह का कोई कैंसर मौजूद नहीं था। यह दवा निर्माता ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन (Glaxo SmithKline) द्वारा समर्थित है।

Dostarlimab दवा, एक मोनोक्लोनल एंटीबॉडी दवा है, जो कि यूके में एंडोमेट्रियल कैंसर के इलाज के लिए पहले से ही मान्य है और यह दवा जेम्पेरली (Jemperli) ब्रांड के तहत बेची जाती है। डोस्टारलिमैब दवा अप्रैल 2021 में संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोपीय संघ में चिकित्सा उपयोग के लिए अनुमोदित की गई थी।

6 जून को न्यूयॉर्क में किए गए मेमोरियल स्लोन केटरिंग कैंसर सेंटर (Memorial Sloan Kettering Cancer Center) में क्लिनिकल परीक्षण के दौरान इस मेडिसिन ने बहुत ही अच्छे नतीजे दिए है इसीलिए अब इस दवाई को कैंसर बीमारी के स्थाई इलाज के लिए उपयोग जाएगा।

.